Bhulekh BhuNaksha UP 2021 – उत्तर प्रदेश भूमि नक्शा map upbhunaksha.gov.in

उत्तर प्रदेश भू नक्शा 2021 ऑनलाइन कैसे देखे? UP Bhulekh Bhu Naksha online MAP

इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम सभी रीडर्स को उत्तर प्रदेश भू नक्शा पोर्टल के बारे मई सभी जानकारी बतायेगे। इस जानकारी के माध्यम से कोई भी उत्तर प्रदेश का निवासी घर बैठे ही अपनी भूमि का नक्शा देख सकता है। आप सभी से अनुरोध ह की इस आर्टिकल तो पूरा पढ़े ताकि आपको सभी महत्वपूर्ण जानकारिया प्राप्त हो सके।

Read UPBhu Naksha article in english

उत्तर प्रदेश भू नक्शा पोर्टल क्या है?

उत्तर प्रदेश भू नक्शा प्रदेश सरकार द्वारा संचालित एक ऑनलाइन पोर्टल है जिस का प्रमुख उद्देश्य भूमि नक्शो को सभी नागरिको तक एक डिजीटल मानचित्र के रूप मे पहुंचने का है। इसके द्वारा सभी जिलों की तहसील के सभी गाँवो के नक़्शे की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा वेबसाइट होम पेज

इस पोर्टल के माध्यम से सभी तरह के नक़्शे ऑनलाइन उपलब्ध कराये जा रहे है जिसकी सहायता से उत्तर प्रदेश के सभी निवासी कभी भी किसी भी तरह का नक्शा घर बैठे ही देख सकते है तथा सभी महत्वपूर्ण जानकारिया प्राप्त कर सकते है।

पोर्टल सारांश

पोर्टल का नामभू नक्शा उत्तर प्रदेश
विकसित किया गयाप्रदेश सरकार
उद्देश्यनागरिको को जमीन का नक्शा देखने की सुविधा प्रदान करना
नक्शा देखने का तरीकाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटupbhunaksha.gov.in

इन आर्टिकल को भी देखे:

उत्तर प्रदेश मे भूमि का नक्शा कैसे देखे ?

उत्तर प्रदेश भू नक्शा पोर्टल के माध्यम से भूमि का नक्शा देखने की प्रक्रिया काफी आसान है। सभी लोग जो अपने गांव की जमीन का नक्शा ऑनलाइन देखना चाहते है वो नीचे दी गयी जानकारी का इस्तेमाल करके आसानी से देख सकते है।

1-सबसे पहले upbhunaksha gov in वेबसाइट खोलें ।

2-अधिकारिक वेबसाइट पर दायी तरफ आपको भूमि का मैप दिखाई देगा।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा - जमीन का मैप

3-बायीं तरफ आपको अपना गांव सर्च करने के लिए कुछ विकल्प दिखाई देंगे।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा - गांव सर्च करने के विकल्प

4-नक्शा सर्च करने के विकल्पों के नीचे आपको “show land types details” लिंक दिखाई देगा जिस पर क्लिक करके आपको जमीन से सम्बंधित नीचे लिखी हुई महत्वपुर्ण जानकारिया दायी तरफ मिल जाएगी।

शादी अनुदान योजना उत्तर प्रदेश

 भूमि प्रकारभूमि का विवरणकुल खातेकुल मालिककुल भूखंडकुल क्षेत्रफल (कीट)कुल भूमि राजस्व
5-3-ङअन्य कृषि योग्य बंजर भूमि।1122.71900.00
1-कभूमि जो संक्रमणीय भूमिधरों केअधिकार में हो।692319963.29602391.35
6-1अकृषिक भूमि – जलमग्न भूमि ।3371.50600.00
6-2अकृषिक भूमि – स्थल, सड़कें, रेलवे,भवन और ऐसी दूसरी भूमियां जोअकृषित उपयोगों के काम में लायी जाती हो।33162.48800.00
2भूमि जो असंक्रमणीय भूमिधरो केअधिकार में हो।2934293.343085.10
5-1कृषि योग्य भूमि – नई परती (परतीजदीद)1140.75700.00
6-4जो अन्य कारणों से अकृषित हो ।2240.64000.00
उत्तर प्रदेश भू मानचित्र जमीन प्रकार विवरण

5-जमीन का नक्शा देखने के लिए सबसे पहले आपको बायीं तरफ दिए गए विकल्पों का एक के बाद एक चयन करना होगा । सबसे पहले आपको अपने जिले का चयन करना होगा उसके बाद आपको अपनी तहसील का चयन करना होगा । आखिर मे अपने गांव का चयन करना होगा।

6-गांव का चयन करने के बाद दायी तरफ खसरा संख्या के हिसाब से उस गांव का नक्शा डिजिटल रूप मे आ जायेगा। अगर आप किसी खसरा संख्या पर क्लिक करते है तो उस प्लाट से सम्बंधित जानकारी नक़्शे के दायी तरफ एक नयी विंडो मे दिखाई देगी।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा प्लाट की जानकारी

इस नयी विंडो में आपको निचे लिखी हुई कुछ जरुरी जानकारी मिल जाएगी।

  • खाता संख्या
  • खसरा संख्या
  • क्षेत्रफल(हे.)
  • खातेदार का नाम
  • निवास स्थान
  • आदेश (खाता संख्या)

7- इस नयी विंडो मे सबसे नीचे “Map report” नाम से एक लिंक मिलेगा। इस लिंक पर क्लिक करके आप जमीन का शजरा मैप ऑनलाइन देख सकते है तथा सभी जानकारी को पीडीएफ फाइल के रूप मे डाउनलोड भी कर सकते है।

उत्तर प्रदेश भू नक्शा शजरा मैप

शजरा मैप मे अगर आप बायीं तरफ “All plots of same owner” लिंक पर क्लिक करते है तो उस ओनर के जितने भी प्लाट है उन सभी के मैप दायी तरफ आ जायेगे।

पोर्टल पर लॉगिन करने का तरीका

अधिकृत व्यक्ति भू नक्शा पोर्टल पर लॉगिन करने के लिए निचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते है।

  • सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट खोले
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर दायी तरफ ऊपर की साइड मई एक लोगिन लिंक दिखाई देगा।
  • इस लॉगिन लिंक पर करे। लॉगिन लिंक पर बाद एक नया लॉगिन पेज खुल जायेगा।
  • up-bhu-naksha-login-page
  • अब आप इस लॉगिन फॉर्म में नीचे दी गयी जानकारी डालकर आसानी से लॉगिन कर सकते है।
    • District – अपना जिला चुने
    • User ID – यूजर नाम भरे
    • Password – पासवर्ड भरे
  • सभी इनफार्मेशन भरने के बाद लॉगिन बटन पर क्लिक करे

Note: यदि आप अपना पासवर्ड भूल गए है तो आप ROR एप्लीकेशन के माध्यम से अपना पासवर्ड रिसेट कर सकते है।

भूमि नक्शा यूपी पोर्टल के लाभ

  • आसान प्रणाली – अब उत्तर प्रदेश के सभी लोग किसी भी भूमि से संबंधित महत्वपूर्ण विवरण ऑनलाइन देख सकते हैं। ऑनलाइन पोर्टल की मदद से अब यह एक बहुत ही सुविधाजनक और आसान प्रक्रिया है।
  • धोखाधड़ी को रोकना – उत्तर प्रदेश में भूमि के नक्शे को डिजिटाइज़ करके भूमि धोखाधड़ी की गतिविधियाँ बहुत कम हो गईं है क्योंकि सभी डेटा मानचित्र के माध्यम से ऑनलाइन उपलब्ध हैं और कोई भी आसानी से भूमि और मालिक के विवरण की जांच कर सकता है।
  • मानचित्र की छपाई – अब लोग इस पोर्टल के माध्यम से अपनी भूमि का नक्शा भी प्रिंट कर सकते हैं।
  • भूमि का आकार – यदि आप अपनी भूमि का कुल क्षेत्रफल देखना चाहते हैं तो यह सुविधा पोर्टल पर भी उपलब्ध है।
  • संपत्ति धोखाधड़ी को रोकना – यदि आप कोई संपत्ति खरीदना चाहते हैं तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि आप इसे कानूनी मालिक से खरीद रहे हैं। यह पोर्टल सभी यूपी के नागरिकों को वास्तविक मालिक और प्लॉट विवरण प्रदान करके मदद करता है ताकि खरीदार किसी भी संपत्ति की खरीद से संबंधित एक अच्छा निर्णय ले सके।
  • नि: शुल्क सेवा – यह पोर्टल सभी सेवाओं को मुफ्त प्रदान कर रहा है और कोई भी बिना किसी शुल्क के इसका उपयोग कभी भी कर सकता है।

यूपी भूमि नक्शा मोबाइल ऐप

गूगल प्ले स्टोर पर बहुत सारे थर्ड पार्टी ऐप उपलब्ध हैं और भू नक्शा को ऑनलाइन देखने के लिए इन्हें डाउनलोड किया जा सकता है। हालांकि, सरकार की ओर से कोई आधिकारिक ऐप जारी नहीं किया गया है। कृपया किसी भी ऐप को डाउनलोड करने से पहले ऐप डेवलपर की प्रामाणिकता की जांच करें।

कृपया नीचे दिए गए आर्टिकल भी पढ़े।

सामान्य प्रश्न

भू नक्शा उत्तर प्रदेश पोर्टल किसने विकसित किया?

भू नक्शा उत्तर प्रदेश पोर्टल राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र उत्तर प्रदेश द्वारा विकसित किया गया है। 
यह cadastral mapping solution पर आधारित है।

यह पोर्टल क्यों विकसित किया गया था?

इस पोर्टल को एक पारदर्शी और प्रभावी मानचित्रण समाधान प्रदान करने और अतीत में अपराधियों और भू-माफियाओं द्वारा किए गए भूमि धोखाधड़ी को कम करने के लिए विकसित किया गया था।

क्या हम इसे अन्य अनुप्रयोगों के साथ एकीकृत कर सकते हैं?

यूपी भू नक्शा पोर्टल को किसी भी भूमि रिकॉर्ड प्रणाली के साथ एकीकृत किया जा सकता है और ROR डेटा आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है। 
विभिन्न राज्य-विशिष्ट डेटाबेस से डेटा प्राप्त करने के लिए उचित अनुकूलन की आवश्यकता होती है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.