MP Bhulekh: Land record, खसरा खतौनी, भू नक्शा मध्यप्रदेश 2021 – ऑनलाइन चेक करें

MP Land record | MPBhulekh | Bhu Naksha मध्य प्रदेश | खसरा खतौनी नकल ऑनलाइन

इस लेख में, हम एमपी भूलेख और लैंड रिकॉर्ड मध्य प्रदेश राज्य से संबंधित सभी विवरण प्रदान कर रहे हैं ताकि राज्य में रहने वाले सभी नागरिक अपनी भूमि से संबंधित सभी विवरणों की जांच कर सकें।

कृपया सभी विवरणों की जांच करें और इस लेख के अंत तक हमारे साथ बने रहें ताकि आप मध्य प्रदेश राज्य में किसी भी भूमि की प्रामाणिकता की जांच करने के लिए आवश्यक प्रत्येक जानकारी प्राप्त कर सकें।

Read this article in english

एमपी भूलेख क्या है?

एमपी भूलेख (webgis) मध्य प्रदेश राज्य का एक ऑनलाइन पोर्टल है जो लैंड रिकॉर्ड और भू नक्शा को बनाए रखने और भूमि से संबंधित ऑनलाइन सेवाएं जैसे कि भूमि रिकॉर्ड की डिजिटल प्रतियां, राजस्व न्यायालय के आदेश, ऑनलाइन भुगतान, आदिप्रदान करने के लिए जिम्मेदार है ।

यह पोर्टल विशेष रूप से मध्य प्रदेश राज्य के लिए बनाया गया है ताकि विभाग के सभी अधिकारी भूमि संबंधी डेटा को आसानी से और तेज गति से ऑनलाइन अपडेट कर सकें। यह आगे आम नागरिकों को सभी महत्वपूर्ण जानकारी आसानी से ऑनलाइन प्राप्त करने में मदद करता है।

मध्यप्रदेश भू अभिलेख विभाग ग्वालियर से कार्यरत है। अब इस पोर्टल के शुरू होने से खसरा, खतौनी, जमीन का नक्शा देखने के लिए तहसील कार्यालय जाने की जरूरत नहीं है क्योंकि सब कुछ ऑनलाइन उपलब्ध है और यह वेबसाइट किसी भी स्मार्टफोन पर अच्छी तरह से बिना रुके काम कर रही है।

सभी जानकारी नीचे उल्लिखित दो आधिकारिक वेबसाइटों के माध्यम से उपलब्ध है।

  • http://www.landrecords.mp.gov.in/
  • https://mpbhulekh.gov.in/

लाभ

यह पोर्टल सभी नागरिकों को उनकी भूमि से संबंधित या यदि कोई मध्य प्रदेश राज्य में कोई संपत्ति खरीद रहा है, तो उन्हें बहुत सारे लाभ प्रदान करता है।

  • सभी लोग इस पोर्टल के माध्यम से भूमि अभिलेखों की जांच करके किसी भी भूमि की वैधता और प्रामाणिकता की आसानी से जांच कर सकते हैं।
  • कोई भी व्यक्ति खसरा, खतौनी से संबंधित जानकारी ऑनलाइन आसानी से प्राप्त कर सकता है।
  • सभी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध है और कोई भी अपने स्मार्टफोन का उपयोग करके महत्वपूर्ण डेटा को ऑनलाइन एक्सेस कर सकता है।
  • अगर आप कोई संपत्ति खरीदना चाहते हैं तो आप कानूनी मालिक की जानकारी ऑनलाइन पा सकते हैं।
  • मध्य प्रदेश में किसी भूमि के लिए कोई भूमि विवाद लंबित है या नहीं, इसकी भी जांच की जा सकती है।
  • लोग किसी भी भूमि का नक्शा ऑनलाइन भी देख सकते हैं जो महत्वपूर्ण जानकारी जैसे भूमि क्षेत्र, भूमि मालिक का नाम, पिता का नाम आदि प्रदान करता है ।
  • सभी लोग खसरा और खतौनी में किसी भी त्रुटि के बारे में ऑनलाइन जांच कर सकते हैं और सुधार के लिए आवेदन जमा कर सकते हैं।

हाइलाइट

विवरणसारांश
पोर्टल का नामभूमि अभिलेख मध्य प्रदेश
दूसरा नामएमपी भूलेख
द्वारा विकसितराष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र
लॉन्च की तारीख11 सितंबर 2013
आधिकारिक मालिकआयुक्त, भूमि अभिलेख एवं बंदोबस्त, मध्य प्रदेश
प्रयोजनजमीन संबंधी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध कराएं
लाभार्थीमध्य प्रदेश राज्य के सभी नागरिक
आधिकारिक वेबसाइटLandrecords.mp.gov.in
mpbhulekh.gov.in

MP Bhulekh portal पर पंजीकरण कैसे करें?

अगर आप किसी सर्विस का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। पंजीकरण प्रक्रिया नीचे दी गई है। कृपया एक नज़र डालें।

1- आधिकारिक वेबसाइट खोलें । आपको होमपेज के दाईं ओर एक लॉगिन पेज दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

एमपी भूलेख लॉगिन फॉर्म

2-अब इस लॉग इन फॉर्म के नीचे उपलब्ध Register as public user बटन को दबाएं । एक नई विंडो में एक नया पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

नोट: यदि आप विभाग के अधिकारी हैं तो आप ‘Register as internal user’ विकल्प का उपयोग कर सकते हैं।

एमपीभूलेख पंजीकरण फॉर्म

3-अब आपको सभी आवश्यक जानकारी जैसे लॉगिन आईडी, नाम, पिता का नाम, पता, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि प्रदान करके यह पंजीकरण फॉर्म भरना होगा।

4-मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करें और अपना मोबाइल नंबर सत्यापित करने के लिए इस ओटीपी को दर्ज करें। उसके बाद दिए गए सुरक्षा कोड को भरें और रजिस्टर बटन पर क्लिक करें। आपका पंजीकरण अब पूरा हो गया है।

आपका पासवर्ड आपकी ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर पर भेज दिया जाएगा।

नोट: यदि आपको अपना पासवर्ड प्राप्त नहीं होता है तो आप नया पासवर्ड प्राप्त करने के लिए लॉगइन फॉर्म में दिए गए Forgot password विकल्प का उपयोग कर सकते हैं।

यह भी जांचें,

एमपी भूलेख लॉगिन प्रक्रिया

एक बार जब आप पोर्टल पर सफलतापूर्वक पंजीकृत हो जाते हैं तो आप अपनी लॉगिन आईडी और पासवर्ड का उपयोग करके लॉग इन कर सकते हैं। कृपया नीचे दिए गए चरणों की जाँच करें।

1- आधिकारिक पोर्टल खोलें ।

2- दायीं ओर स्थित लॉगिन फॉर्म में अपना लॉगिन आईडी और पासवर्ड दर्ज करें।

एमपी भूलेख लॉगिन फॉर्म

3- विभाग अनुभाग में Public user चुनें और सुरक्षा कोड दर्ज करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।

4- पहली बार लॉग इन करने के बाद एक पासवर्ड बदलें पृष्ठ स्क्रीन पर दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

एमपीभूलेख पासवर्ड बदलें फॉर्म

इस पेज पर, आप अपना सिस्टम-जनरेटेड पासवर्ड बदल सकते हैं और अपना पासवर्ड खुद बना सकते हैं। नया पासवर्ड बनाने के बाद अब आप नए पासवर्ड से लॉगिन कर सकते हैं और पोर्टल पर उपलब्ध सभी सेवाओं का उपयोग कर सकते हैं।

एमपी भूलेख सार्वजनिक उपयोगकर्ता डैशबोर्ड पृष्ठ

पोर्टल पर लॉग इन करने के बाद आपको अपना उपयोगकर्ता डैशबोर्ड पृष्ठ दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

mpbhulekh सार्वजनिक उपयोगकर्ता डैशबोर्ड पृष्ठ

इस सार्वजनिक उपयोगकर्ता डैशबोर्ड पृष्ठ पर, आपको निम्नलिखित सेवाएं आपके लिए उपलब्ध होंगी।

  • भू-अभिलेख प्रतिलिपि
  • MRR अभिलेख प्रतिलिपि
  • भू-अभिलेख प्रतिलिपि डाउनलोड
  • व्यपवर्तन सूचना
  • वॉलेट रिचार्ज
  • प्रोफाइल देखें/बदले
  • पासवर्ड परिवर्तन
  • ग्राम नक्शा
  • भू-राजस्व भुगतान

1-भूमि अभिलेखों की प्रतिलिपि: डैशबोर्ड पृष्ठ पर इस विकल्प की सहायता से खसरा विवरण पाया जा सकता है। यदि आप भूमि अभिलेखों की प्रतिलिपि लिंक पर क्लिक करते हैं तो स्क्रीन पर एक नई विंडो दिखाई देगी (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)

mp भूमि अभिलेख पृष्ठ की प्रति

अब नीचे दिए गए विकल्पों में से आवेदन प्रकार का चयन करें

  • अधिकार अभिलेख की प्रतिलिपि
  • आदेश की प्रतिलिपि
  • खसरा की प्रतिलिपि
  • खातावार खसरा की प्रतिलिपि
  • नक्शा की प्रतिलिपि
  • बी-1 की प्रतिलिपि

उसके बाद अपने जिले, तहसील, गांव का चयन करें और अपना खसरा नंबर दर्ज करें और विवरण देखें बटन पर क्लिक करें। सभी विवरण स्क्रीन पर उपलब्ध होंगे।

2-MRR अभिलेख प्रतिलिपि:

एमआरआर भूमि रिकॉर्ड डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आपको एक आवेदन पत्र जमा करना होगा। यदि आप अपने डैशबोर्ड में एमआरआर अभिलेख प्रतिलिपि लिंक पर क्लिक करते हैं तो एक नया पेज दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

MRR अभिलेख प्रतिलिपि आवेदन पत्र

सबसे पहले, आपको अभिलेख प्रतिलिपि के लिए आवेदन करना होगा। इस फॉर्म में जिला, तहसील, ग्राम, अभिलेख प्रकार, खसरा संख्या, पृष्ठ संख्या का चयन करें। इसके बाद देखें बटन पर क्लिक करें। आपके डिवाइस पर एक भूमि रिकॉर्ड पीडीएफ फाइल डाउनलोड की जाएगी।

3- भू अभिलेख प्रतिलिपि डाउनलोड: यदि आप अपने उपयोगकर्ता डैशबोर्ड पृष्ठ पर इस विकल्प पर क्लिक करते हैं तो आपको स्क्रीन पर एक नया पृष्ठ मिलेगा जैसा कि नीचे दिखाया गया है।

भूमि अभिलेखों की प्रति डाउनलोड

इस पृष्ठ पर आप निम्न प्रकार के भूमि अभिलेखों की एक प्रति डाउनलोड कर सकते हैं।

  • खसरा की प्रतिलिपि
  • बी-1 की प्रतिलिपि
  • खातावार खसरा के प्रतिलिपि
  • नक्शा की प्रतिलिपि
  • एम आर आर की प्रतिलिपि
  • आदेश की प्रतिलिपि
  • अधिकार अभिलेख की प्रतिलिपि

4-व्यपवर्तन (diversion) सूचना: यदि आप डैशबोर्ड पेज के माध्यम से इस विकल्प पर क्लिक करते हैं तो स्क्रीन पर एक नई विंडो दिखाई देगी (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

व्यपवर्तन सूचना के लिए आवेदन

इस पेज पर आप नीचे डायवर्सन सूचना से संबंधित कार्यों को नीचे कर सकते हैं।

  • न्यू विपवर्तन
  • सूचना पत्र
  • बाहरी आवेदन गए
  • सुधार भुगतान
  • अस्वीकृत
  • डी.एफ. प्रथम चरण

इसके

  • आवेदक की पहचान का प्रमाण
  • मुख्तियारनामा या प्राधिकार पत्र
  • सहखातेदारो की सहमति पत्र
  • पवर्तित भाग का हेक्टेयर से मीटर में परिवर्तन
  • अन्य दस्तावेज

5-वॉलेट रिचार्ज: इस विकल्प के माध्यम से आप अपने वॉलेट को ऑनलाइन रिचार्ज कर सकते हैं तथा इसका उपयोग भू राजस्व के ऑनलाइन भुगतान के लिए किया जा सकता है । यहां आप अपने भुगतान की स्टेटमेंट भी देख सकते हैं ।

mpbhulekh पोर्टल वॉलेट रिचार्ज पेज

6-प्रोफाइल व्यू/अपडेट: यदि आप प्रोफाइल विकल्प पर क्लिक करते हैं तो आपकी प्रोफाइल से संबंधित सभी जानकारी जैसे व्यक्तिगत विवरण, पता आदि कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी। यदि कोई गलत डेटा है तो उपयोगकर्ता इस जानकारी को संपादित और अपडेट कर सकता है।

7-पासवर्ड परिवर्तन: इस विकल्प से उपयोगकर्ता अपना पासवर्ड बदल सकता है।

8-गाँव का नक्शा:

इस विकल्प के माध्यम से भू-सुधारित खसरा/भूकर मानचित्र उपलब्ध है। एमपी ऑनलाइन पेमेंट गेटवे के माध्यम से कोई भी ऑनलाइन आवश्यक शुल्क का भुगतान करके गांव का खसरा नक्शा डाउनलोड कर सकता है । यदि आप इसके विकल्प पर क्लिक करते हैं तो आप geoportal.mp.gov.in पोर्टल पर पुनर्निर्देशित हो जाएंगे जहां आपको खसरा मानचित्र डाउनलोड करने के लिए पहले पंजीकरण करना होगा। पंजीकरण के बाद आप ऑनलाइन शुल्क का भुगतान करके खसरा नक्शा डाउनलोड कर सकते हैं।

9-राजस्व भुगतान: राजस्व भुगतान विकल्प के माध्यम से कोई भी राजस्व विभाग से संबंधित ऑनलाइन भुगतान को पूरा कर सकता है। यह भुगतान वॉलेट विकल्प की मदद से भी किया जा सकता है यदि आपने अपना वॉलेट रिचार्ज किया है।

एमपी भू अभिलेख पोर्टल पर राजस्व भुगतान विकल्प पृष्ठ

इस पेज पर आपको तीन विकल्प मिलेंगे।

  • नया राजस्व भुगतान
  • लंबित भुगतान
  • पुरानी भुगतान जानकारी

आप अपनी जमीन की जानकारी खोज कर ऑनलाइन जमीन से संबंधित विभिन्न प्रकार के करों का भुगतान कर सकते हैं।

भू नक्शा मध्यप्रदेश 2021 ऑनलाइन कैसे देखें?

अब भूलेख पोर्टल की मदद से मध्य प्रदेश में भू नक्शा की जांच करना बहुत आसान है। कृपया नीचे दी गई चरण-दर-चरण प्रक्रिया की जाँच करें।

चरण 1: आधिकारिक वेबसाइट खोलें ।

चरण 2: अब आपको भूलेख एमपी भू नक्शा पेज को ओपन करना है। इसे आप दो तरह से कर सकते हैं।

  • शीर्ष मेनू में Search लिंक पर क्लिक करें और अगले पृष्ठ पर भू नक्शा लिंक पर क्लिक करें।
  • सामान्य जन हेतु भू अभिलेख की सेवाएं के अंतर्गत उपलब्ध भू-भाग नक्शा लिंक पर क्लिक करें

एक बार जब आप किसी लिंक पर क्लिक करते हैं, तो आपको एक नया पॉपअप दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)

चरण 3: अब ‘क्या आप ग्राम-वार नक्शा देखना चाहते हैं’ के तहत Yes बटन पर क्लिक करें । स्क्रीन पर एक नई विंडो दिखाई देगी (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

भू नक्शा एमपी पेज पर ग्राम चयन

इस विंडो में आपको अपने जिले, तहसील और गांव का चयन करना होगा। गांव का चयन करने के बाद आपको इस फॉर्म के नीचे गांव का नक्शा दिखाई देगा।

मध्य प्रदेश के अंकुवा गांव का नक्शा

इस पेज पर आपको लेफ्ट साइड में नीचे बताए अनुसार जमीन से जुड़ी कुछ जानकारियां दिखाई देंगी।

  • भूमि प्रकार विषयगत
    • शासकीय भूमि
    • निजी भूमि
    • अनलिंक भूमि
    • अन्य
  • खसरा विवरण

नोट: अनलिंक भूमि को भूलेख पोर्टल के साथ एकीकृत नहीं किया गया है

चरण 4: अब खसरा विवरण विकल्प पर क्लिक करें और खसरा नंबर दर्ज करें और जमा करें बटन पर क्लिक करें।

मध्य प्रदेश भू नक्शा में खसरा नंबर विवरण

आपको उस खसरा नंबर से संबंधित जानकारी जैसे कि भूमि धारक का नाम और अन्य विवरण दिखाई देगा।

यह भी जांचें,

खसरा खतौनी और भूमि का मानचित्र कैसे देखें?

इस ऑनलाइन पोर्टल की सहायता से अब खसरा, खतौनी और मानचित्र विवरण देखना बहुत आसान है। सभी विवरणों की जांच करने के लिए आप नीचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते हैं।

चरण 1: आधिकारिक वेबसाइट खोलें और शीर्ष मेनू में Search लिंक पर क्लिक करें।

चरण 2: उसके बाद, अगले पृष्ठ पर एमपी भुलेख (खसरा / खतौनी / मानचित्र) लिंक पर क्लिक करें। स्क्रीन पर एक नई विंडो दिखाई देगी

एमपी भू अभिलेख पोर्टल खसरा खतौनी नक्शा  ऑनलाइन

चरण 3: अब सभी जानकारी जैसे जिला, तहसील, गांव, खसरा नंबर का चयन करें और यूनिक आईडी, यूएलपीआईएन, भूमि मालिक आईडी दर्ज करें। इसके बाद सर्च बटन पर क्लिक करें।

आप इस खोज पृष्ठ के नीचे भूमि स्वामी और खसरा विवरण (खतौनी) देखेंगे (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

एमपी भूलेख पोर्टल पर भूमि मालिक और खसरा का विवरण

यदि आप खसरा कॉलम के नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करते हैं तो आपको खसरा की एक डिजीटल कॉपी दिखाई देगी।

मध्य प्रदेश भू लेख पोर्टल पर कंप्यूटरीकृत खसरा कॉपी

इसी तरह, ऑनलाइन नक्शा और कोर्ट केस विवरण देखने के लिए नक्शा और केस विवरण के नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करें?

मध्य प्रदेश के सभी नागरिक अपनी जमीन के लिए किसी भी तरह की मदद से संबंधित ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा सकते हैं। शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया नीचे वर्णित है।

चरण 1: आधिकारिक वेबसाइट खोलें और शीर्ष मेनू में Grievance लिंक पर क्लिक करें। स्क्रीन पर एक नई विंडो दिखाई देगी (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)।

mpbhulekh ऑनलाइन शिकायत पृष्ठ

इस शिकायत पेज पर यूजर को तीन विकल्प मिलेंगे।

  • पब्लिक – इस विकल्प के माध्यम से कोई भी अपनी शिकायत भेज सकता है।
  • पंजीकृत उपयोगकर्ता – यदि आप एक पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं तो इस विकल्प का उपयोग करें।
  • शिकायत / सुझाव ट्रैक – आप इस विकल्प के माध्यम से अपनी शिकायत की स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं।

शिकायत जमा करने के लिए उपयोगकर्ता को सभी महत्वपूर्ण आवश्यक विवरण जैसे कि नीचे बताए गए हैं प्रदान करके पूरा आवेदन पत्र भरना होगा।

  • नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी
  • पता, खसरा नंबर
  • दस्तावेज़ अपलोड करें
  • अपनी शिकायत टाइप करें
  • उसके बाद यदि आप पोर्टल पर पंजीकृत नहीं हैं तो सेंड ओटीपी बटन पर क्लिक करें।

ओटीपी वेरिफिकेशन के बाद आपकी शिकायत सबमिट हो जाएगी। शिकायत दर्ज करने के बाद आप तीसरे विकल्प के माध्यम से अपनी शिकायत की स्थिति की जांच कर सकते हैं।

एमपी भूलेख रिपोर्ट

पोर्टल पर विभिन्न प्रकार की रिपोर्ट उपलब्ध हैं और सभी उपयोगकर्ता इन रिपोर्टों को ऑनलाइन देख सकते हैं। रिपोर्ट की जांच करने के लिए आपको शीर्ष मेनू पर उपलब्ध Report लिंक पर क्लिक करना होगा।

सभी नागरिक निम्न प्रकार की रिपोर्ट देख सकते हैं।

  • खसरा/नक्शा त्रुटि
  • डाटा परिमार्जन रिपोर्ट
  • स्वामित्व प्रकार सुधार सूची
  • भूमि वर्गीकरण
  • डाउनलोड ग्राम सूची
  • भू राजस्व मांग
  • कृषि भूमि राजस्व जमा
  • भूमि व्यपवर्तन शुल्क जमा
  • भू राजस्व जमा
  • कोषालय चालान सर्च
  • व्यपवर्तन सूचना
  • व्यपवर्तन बिना सूचना
  • डायवर्ट की गई जमीन का मकसद
  • संभावित डायवर्ट की गई जमीन
  • भूमि व्यपवर्तन निगरानी
  • भूमि बंधक
  • बैंकवार भूमि बंधक / दृष्टिबंधक
  • बंधक निगरानी
  • भूमि बंधक / दृष्टिबंधक खोजें
  • आदेश अनुपालन
  • आदेश अनुपालन निगरानी
  • ऑनलाइन भुगतान
  • BeGL वॉलेट
  • अन्य यूजर वॉलेट
  • शिकायत रिपोर्ट
  • फसल रिपोर्ट
  • गतिविधि विहीन जिला
  • अनावंटित जिला /तहसील/गांव
  • लॉग इन यूजर संख्या
  • यूजर कंप्यूटर पंजीकरण
  • पंजीकृत कार्यशील उपयोगकर्ता
  • भूमि अभिलेख प्रति कियोस्क-वार
  • भूमि अभिलेख प्रतिलिपि डॉक-वार
  • बी1/निस्टार डाटा एंट्री
  • मिसल अभिलेख डेटा एंट्री
  • GCP डेटा
  • डाउनलोड कृषि भिन्न आश्या
  • डाउनलोड रिक्त भूमि प्रकार
  • डाउनलोड रिक्त भूमि स्वामी
  • डाउनलोड रिक्त भूमि स्वामी प्रकार
  • शून्य क्षेत्र डाउनलोड करें
  • डाउनलोड सक्रिय मूल एवं बटांक खसरा
  • डाउनलोड शाब्दिक सर्वेक्षण क्रमांक

यह भी जांचें,

अदालती मामलों का विवरण कैसे देखें?

अब कोई भी व्यक्ति इस पोर्टल के माध्यम से दीवानी न्यायालय में चल रहे मामलों का विवरण ऑनलाइन देख सकता है। प्रक्रिया नीचे दी गई है।

चरण 1: आधिकारिक पोर्टल खोलें और शीर्ष मेनू पर Search लिंक पर क्लिक करें ।

चरण 2: अगले पेज पर व्यवहार न्यायालय प्रकरण लिंक पर क्लिक करें । एक नया कोर्ट केस सर्च पेज एक नई विंडो में दिखाया जाएगा।

सिविल कोर्ट केस सर्च पेज मध्य प्रदेश भू अभिलेख

चरण 3: अब अपना जिला, तहसील, गांव चुनें और खसरा नंबर और अन्य विवरण दर्ज करें। इसके बाद विवरण देखें बटन पर क्लिक करें। आपको उस खसरा नंबर पर सभी कोर्ट केस की लिस्ट दिखाई देगी। आप इस पृष्ठ पर नीचे उल्लिखित विवरण पा सकते हैं।

  • केस रजिस्ट्रेशन की तारीख
  • अगली सुनवाई की तारीख
  • जज का आदेश
  • याचिकाकर्ता
  • सीएनआर नंबर, आदि

यह विवरण केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है। अधिक प्रामाणिक जानकारी के लिए आप https://districts.ecourts.gov.in/ वेबसाइट पर जा सकते हैं।

RCMS ऑर्डर विवरण कैसे प्राप्त करें?

आप नीचे दी गई प्रक्रिया की मदद से RCMS ऑर्डर (कोर्ट ऑर्डर कॉपी) पा सकते हैं।

1-आधिकारिक वेबसाइट खोलें और शीर्ष मेनू में Search लिंक पर क्लिक करें।

2-अगले पेज पर RCMS ऑर्डर लिंक पर क्लिक करें । स्क्रीन पर एक नया पेज दिखाई देगा (जैसा कि नीचे दिखाया गया है)

एमपी भुलेख पर कोर्ट के आदेश की कॉपी डाउनलोड पृष्ठ

3-अब डिस्ट्रिक्ट, कोर्ट टाइप, कोर्ट, केस नंबर सेलेक्ट करें।

4- इसके बाद सिक्योरिटी कोड डालकर खोजें बटन पर क्लिक करें। आपको इस सर्च फॉर्म के नीचे कोर्ट ऑर्डर लिस्ट दिखाई देगी। आप कोर्ट ऑर्डर की पीडीएफ फाइल भी डाउनलोड कर सकते हैं।

हेल्पलाइन विवरण

किसी भी आपात स्थिति में या आपको कोई महत्वपूर्ण जानकारी चाहिए तो आप सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक उपलब्ध टोल-फ्री नंबर का उपयोग कर सकते हैं।

हेल्पडेस्क नंबर 1800-233-6763, 07554000340

ईमेल आईडी [email protected]

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.